Learn blogging tips,blogger,post,article-setting in blogger Hindi

Learn blogging tips-Post,Article in Blogger

learn blogging tips
learn blogging tips-Blogger

Learn blogging tips : हम जान ले एक अच्छा ब्लॉग वही होता है।जिसमे न सिर्फ अच्छी जानकारी हो बल्कि वह अच्छे से डिज़ाइन किया हो ।

आप की गूगल या अन्य सर्च इंजन में रैंकिंग तभी बढ़ सकती है । जब आप का आर्टिकल मौलिक हो । Blogger हमेशा यह गलती करते है जो टॉपिक हजारो, लाखो लोग लिख रहे होते उसी पर अपना ब्लॉग शुरू कर देते है ।

google rank
Google ranking

उन लोगो में मै भी शामिल हूँ। लेकिन मै फिर भी लिख रहा हूँ क्यों की मै चाहता हूँ जो गलती मैंने की वो आप ना करे ।
शुरू में जब मैंने ब्लॉगिंग करना शुरू किया तब मुझे भी डिजाइनिंग की इतनी जानकारी नहीं थी । लेकिन धीरे धीरे नेट पर पढ़ कर उन्हें प्रैक्टिकली करते हुए ।मुझे काफी कुछ जानकारी मिली ।

याद रखिये कोई भी काम आसान नहीं होता है । या यह कह लीजिये आसान काम की कीमत भी कम होती है । हमेशा वह कीजिये जो और कोई ना करता हो ।मेहनत का फल हमेशा मीठा होता है

learn blogging tips पोस्ट लिखते समय यह हमेशा ध्यान रखिये :

most important :

  • first of all आपकी Post मौलिक हो यानी की कही से कॉपी न की गई हो । कॉपी पेस्ट गूगल आसानी से पकड़ लेता है ।
  • अपनी भाषा में अच्छे से लिखे । लोगो को आपकी Post में इंटरेस्ट डवलप होना चाहिए ।
  • ताकि लोग बार बार आप के ब्लॉग को पड़ने के लिए आपकी साइट पर आये ।
  • ब्लॉग में कम से कम 300 से लेकर 700-800 वर्ड use करे ।
  • पोस्ट में कही कही इमेज या पिक्चर का इस्तमाल करे उससे आप की पोस्ट आकर्षक हो जाएगी । पढने वालो में रूचि पैदा करेगी ।
  • जितना हो सके उदाहरण से समझाए ।
  • प्रॉब्लम स्पष्ट रूप से लिखे और उसका Solution भी ढंग से समझाए ।

ब्लॉगर में आपने अकाउंट कैसे क्रिएट कर इसके लिए आप पिछली पोस्ट पढ़े ।

Post setting कैसे करे ब्लॉगर में आइये अब हम सीखते है।

post setting blogger
Post setting in blogger
  1. labels : अपनी पोस्ट में लेबल्स कैसे लगाए या लेबल्स क्या होते है ।
    जब आप कोई भी पोस्ट या आर्टिकल लिखते है तो वह अलग अलग विषय से रिलेटेड होती है ।
    या लेबल्स को आपकी पोस्ट की categories भी कह सकते है ।
    जैसे आपने कुछ आर्टिकल या पोस्ट Technology  के बारे में लिखे तो उन सब आर्टिकल या पोस्ट लिखने के बाद आप लेबल दीजिये Technology वही जब आप कुछ आर्टिकल या पोस्ट Sports पर लिखते है तो वहा आप Sports लेबल दीजिये ।
    जब भी आप की साइट या ब्लॉग पर अगर कोई कुछ सर्च करना चाहेगा तो वह उन लेबल्स की मदद से आसानी से ढूंढ लेगा ।
    अगर उसकी रूचि टेक्नोलॉजी में है तो वह टेक्नोलॉजी पर क्लिक करेगा अन्यथा अन्य लेबल पर ।
    आप एक ही जगह दो लेबल भी कोमा लगा कर क्रिएट कर सकते है अगर आप को लगता है दूसरा लेबल भी उसका पर्याय है ।
    नोट : लेबल बनते समय lower , upper  केस का ध्यान रखे ,स्पेलिंग भी सही लिखे नहीं तो नया लेबल क्रिएट हो जायेगा और एक से दिखने वाले दो लेबल दिखने लगेंगे ।
    इस तरह लेबल बनाइये और Done पर क्लिक कर दीजिये । आप का लेबल तैयार है ।
  2. schedule में अपनी पोस्ट का Schedule कैसे फिक्स करू ?
    आप अपनी पोस्ट का Schedule फिक्स कर सकते है । यानि आप चाहते है जैसे ही आप Publish पर क्लिक करे आप के पोस्ट Publish न हो ।
    तो आप एक Schedule फिक्स कर सकते है । अब आप की पोस्ट उसी तारीख को औटोमाटिकली पब्लिश हो जाएगी । उदारहण के लिए वीक के बीच में किसी तारीख पर किसी ख़ास प्रोडक्ट के लांच होते ही आप उसे पब्लिश करना चाहते है । आप वह वह डेट अपने पोस्ट के schedule में डाल दीजिये उस डेट को वह पोस्ट अपने आप पब्लिश हो जाएगी ।
    ऐसे schedule fix करे ।
    1 पोस्ट सेटिंग में schedule पर क्लिक करे ।
    वहा पर दो ऑप्शन नज़र आएंगे
    > Automatic (आटोमेटिक)
    > Set date and time( सेट डेट एंड टाइम)
    >Automatic  को सेलेक्ट करने पर जैसे ही आप पब्लिश पर क्लिक करेंगे ।सिस्टम अपने आप ,अभी की डेट और टाइम ले लेगा ।
    यही आप की पोस्ट की पब्लिश डेट एंड टाइम होगा ।
    Set date and time (सेट डेट एंड टाइम) ऑप्शन को सेलेक्ट कीजिये । वहा पर एक केलिन्डर ओपन हो जायेगा । अपनी Schedule के अनुसार डेट और टाइम चेंज कर दीजिये ।
    अब done पर क्लिक कर दीजिये । आपका Schedule फिक्स हो गया अब यह पोस्ट आपके Schedule के अनुसार अपने आप पब्लिश हो जाएगी ।
  3. Links : यहाँ क्लिक करने पर आप को दो ऑप्शन मिलते है
    >ऑटोमेटिक पर्मालिंक
    >कस्टम पर्मालिंक
    अगर आप आटोमेटिक पर्मालिंक use  करते है तो ब्लॉगर अपने आप आपकी साइट का लिंक क्रिएट कर देगा । वह पहले आपकी साइट का नाम, फिर पब्लिश होने की तारीख ,और अंत में आपकी पोस्ट की टाइटल को use कर लेता है ।
    और अगर आप कस्टम पर्मालिंक उसे करते है तो उसमे अपने अनुसार चेंज कर सकते है जैसा की आप को याद रह सके ।
  4. Location : यहाँ पर भी आप को दो ऑप्शन मिलते है
    सर्च :यहाँ सर्च पर क्लिक करने पर औटोमाटिकली आप की लोकेशन ले ली जाती है ।
    दूसरा आप गूगल मैप पर पिन लेजाकर अपनी लोकेशन बता सकते है ।
  5. Search Description : इस जगह आप अपने ब्लॉग पोस्ट या आर्टिकल के बारे में संक्षिप्त में लिखे ताकि Google  या अन्य सर्च में सर्च करने पर यह नज़र आये । यह सर्च करने वाले की सुविधा के लिए होता है ।(इसमें अपने पोस्ट या आर्टिकल के कीवर्ड भी use करे keywords क्या होता है उसे कैसे उपयोग में लाते है| वह में अपने अगली पोस्ट में बताऊंगा ।
    इसकेलिए आप मेरा न्यूज़ लेटर जरूर सब्सक्राइब करे वह बिलकुल free है
  6. Option : Allow-Reader Comments,compose mode,line breaks होता है । यहाँ अपनी इच्छा के अनुसार सेलेक्ट कर सकते है ।
    यह सब करने के बाद फिर से अपनी पोस्ट या आर्टिकल को चेक करे कोई गलती हो तो सुधारे।
    लास्ट में Publish पर क्लिक करे अब आप के पोस्ट या आर्टिकल लाइव हो गई ।
Janoge to sikhoge

प्रातिक्रिया दे